गर्भावस्था के पहले महीने के लक्षण एवं बदलाव ।। Symptoms and changes in the first month of pregnancy

गर्भावस्था के पहले महीने के लक्षण एवं बदलाव ।। Symptoms and changes in the first month of pregnancy

lady1.jpg

माँ बनना हर महिला का सपना होता है। ऐसा माना जाता है कि माँ (Mother) बनने के बाद ही स्त्री  का जीवन सम्पूर्ण (Complete) होता है। गर्भावस्था का अहसास हर होने वाली माँ  के  लिए  कुछ अलग और  एक्साइटिंग  होता है और उसे कुछ न कुछ अवश्य सिखाता है। जानिए गर्भावस्था  के  पहले   महीने  में क्या -क्या बदलाव  होता  है ।   

गर्भावस्था के पहले महीने लक्षण  एवं बदलाव                                                                              

  1. प्रेग्नेंट  वीमेन  को अपना शरीर पहले से ज़्यादा फूला हुआ लग सकता है और उसे अपनी पीठ का हिस्सा थोड़ा तंग महसूस (Feel) हो सकता है ।
  2. शरीर में एस्ट्रोजन  लेवल  बढ़ने और स्तन ग्रंथियों में वृद्धि होने के कारण गर्भवती महिला के स्तन (Breast) का आकार बढ़ सकता है।
  3. प्रेगनेंसी  के दौरान काम जारी रखने के कारण  तनाव होने लगता  है । इसके साथ ही इसमें चक्कर आना या जी मचलना (Nausea) आदि जैसी समस्याएं भी हो सकती है।      
  4. गर्भावस्था के पहले महीने में थकान रहने लगती है, बिहेवियर चेंज होने लगता है। सुबह के समय बीमार महसूस होता हैं ।
  5. गर्भावस्था के पहले महीने की शुरुआत में हल्की ब्लीडिंग  हो सकती है। इसके साथ ही स्तनों का सख्त होना या निचले हिस्से में दर्द (Pain) का  होना  भी इस दौरान कॉमन  है।  
  6. गर्भावस्था के दौरान पेट में दर्द (Stomach pain), कब्ज जैसी परेशानियां होती है। पीठ में भी दर्द हो सकता है।  
  7. बार-बार पेशाब आना (Frequent urination) भी गर्भावस्था की एक निशानी है।  
  8. पहले महीने में होने वाली स्वास्थ्य समस्या में मूड  स्विंग्स  होना बहुत सामान्य है।थोड़ी-थोड़ी बात पर गुस्सा करना (Anger), चिड़चिड़ापन जैसी परेशानियां भी शुरुआत में हो सकती हैं।इस दौरान फिजिकल  चेंजेस   के कारण महिलाएं परेशान हो जाती हैं और तनाव (Tension) का भी सामना कर सकती है |

Newsletter

Sign up to receive email updates on new recipes.